वास्तविक निवेश पर केन्द्रित होगा मैग्निफिसेंट एमपी समारोह

मुख्य सचिव एसआर मोहंती ने आज इंदौर में मैग्निफिसेंट एमपी समारोह की तैयारियों की समीक्षा करते हुए कहा कि प्रदेश में औद्योगिक निवेश की अपार संभावनाएँ हैं। इन्हीं संभावनाओं को ध्यान में रखते हुए निवेशकों को आकर्षित करने के लिये यह समारोह आयोजित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मैग्निफिसेंट एमपी समारोह वास्तविक निवेश पर केन्द्रित होगा। इसमें निवेश के संबंध में गंभीर चर्चाएँ होंगी और निष्कर्षों पर अमल कराने के सुनिश्चित प्रयास भी किये जायेंगे।

मोहंती ने बताया कि प्रदेश में विभागवार उद्योग आधारित नीतियाँ निर्धारित करने के लिये तेजी से काम किया जा रहा है, जिसके परिणाम शीघ्र ही पूरे प्रदेश में दिखाई देंगे। श्री मोहंती आज इंदौर में आयोजन की तैयारियों की विस्तृत समीक्षा कर रहे थे। मुख्य सचिव ने मैग्निफिसेंट एमपी के आयोजन में आने वाले अतिथियों के लिये उनकी गरिमा के अनुरूप आवास, परिवहन, सुरक्षा आदि व्यवस्थाओं की विभागवार विस्तृत समीक्षा की। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि आयोजन की सफलता के लिये पूर्ण समन्वय के साथ टीम भावना से सभी काम समय-सीमा में पूर्ण करें। आयोजन के दौरान शहर में संपत्ति विरूपण अधिनियम का पालन सुनिश्चित करायें। अधिकारियों-कर्मचारियों के बगैर अनुमति अवकाश पर जाने पर प्रतिबंध लगायें। मुख्य सचिव ने निर्देश दिये कि व्यवस्थाओं में किसी भी तरह की कमी नहीं रखी जाये और यह सुनिश्चित किया जाये कि अतिथियों को किसी भी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े।

प्रतिष्ठापूर्ण आयोजन की व्यापक तैयारियाँ

इंदौर संभाग के आयुक्त श्री आकाश त्रिपाठी ने बताया कि इस प्रतिष्ठापूर्ण आयोजन के लिये इन्दौर में व्यापक तैयारियाँ की जा रही हैं। शहर में आने वाले उद्योगपतियों और औद्योगिक संस्थानों के अधिकारियों की गरिमा के अनुरूप सभी तैयारियाँ निर्धारित समय-सीमा में पूरी कर ली जायेंगी। शहर में इस आयोजन के लिये उत्सवी माहौल है। शहर के मॉल, चौराहों और अन्य प्रमुख स्थानों को प्रदेश में औद्योगिक संभावनाओं और अतिथियों के शानदार स्वागत की दृष्टि से सजाया जा रहा है। श्री त्रिपाठी ने बताया कि अतिथियों की सुविधा के लिये जगह-जगह मार्ग संकेतक लगाए जा रहे हैं। एयरपोर्ट तथा अतिथियों के ठहरने के प्रत्येक स्थान पर समुचित स्वागत और सहायता के लिये आवश्यक व्यवस्थाओं के साथ योग्य और जानकार अधिकारियों को ही तैनात किया जायेगा। आयोजन के दौरान उज्जैन रोड से एमआर-10  मार्ग पर ट्रकों का आवागमन प्रतिबंधित किया जायेगा। आयोजन स्थल पर विशिष्ट अतिथियों के वाहनों की पार्किंग के लिये उचित व्यवस्था रहेगी। पार्किंग स्थल पर पब्लिक एड्रेस सिस्टम भी लगाया जायेगा। आयोजन स्थल पर फायर ब्रिगेड और आकस्मिक चिकित्सा की पर्याप्त व्यवस्था की जाएगी।

समारोह एक नजर में

समीक्षा बैठक में बताया गया कि मैग्निफिसेंट एमपी समारोह के अंतर्गत 17 अक्टूबर को इंदौर में प्रदर्शनी का शुभारंभ होगा और मुख्य कार्यक्रम 18 अक्टूबर को होंगे। मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ 18 अक्टूबर को सुबह उद्घाटन सत्र में शामिल होंगे। इस दिन 8 विशेष सत्र होंगे। सत्र दो भागों में दोपहर 2.30 बजे 3.30 बजे तक तथा शाम 4 से 5 बजे तक आयोजित किये जायेंगे। इसके बाद समापन कार्यक्रम होगा। शाम को अतिथियों के लिये सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे।

समीक्षा के दौरान प्रमुख सचिव उद्योग डॉ. राजेश राजौरा, प्रमुख सचिव जनसम्पर्क श्री संजय शुक्ला, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक श्री वरूण कपूर, ट्रायफेक के प्रबंध संचालक श्री विवेक पोरवाल, मध्यप्रदेश पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध संचालक श्री विकास नरवाल और इंदौर कलेक्टर श्री लोकेश कुमार जाटव, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्रीमती रूचिवर्धन मिश्र सहित अन्य संबंधित विभागों के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

मुख्‍य सचिव ने देखी आयोजन स्थल की व्यवस्थाएँ

मुख्य सचिव श्री मोहंती ने मैग्निफिसेंट एमपी समारोह के आयोजन स्थल का भ्रमण किया। श्री मोहंती ने व्यवस्थाएँ देखीं और अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये।

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *