मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र की बसों का परिचालन 30 जून तक स्थगित

मध्यप्रदेश की सीमा से लगे महाराष्ट्र राज्य के लिए अंतरराज्यीय बसों के परिचालन का स्थगन 22 जून से बढ़ाकर 30 जून तक के लिए फिलहाल बढ़ा दिया गया है। इस सम्बंध में मंगलवार को परिवहन विभाग ने आदेश जारी कर दिए हैं। राज्य के सभी जिलों में संक्रमण कम हो गया है पर महाराष्ट्र में अभी मामले सामने आ रहे हैं। महाराष्ट्र राज्य से यात्रियों के आने के कारण अनियंत्रित भीड़ से पुनः प्रदेश में संक्रमण बढ़ सकता है। इसी को ध्यान में रखकर यह निर्णय लिया गया है।

राज्य के राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने बताया कि स्थगन की अवधि 22 जून से बढ़ा कर 30 जून 2021 तक कर दी गई है। परिवहन मंत्री श्री राजपूत के निर्देश पर इस संबंध में महाराष्ट्र राज्य के लिए परिवहन विभाग ने आदेश जारी किये गये है। राज्य में कोरोना वायरस के संक्रमण पर प्रभावी रोकथाम को दृष्टिगत रखते हुए लोकहित के लिए महाराष्ट्र की ओर जाने और वहां से आने वाली बसों का संचालन पूर्ण रूप से फिलहाल 30 जून तक के लिए स्थगित कर दिया गया है। दरअसल परिवहन विभाग चाहता है कि यात्री बसों में अनलॉक की बजह से होने वाली भीड़ से अभी प्रदेश की जनता को बचाया जाय ताकि कोरोना का खतरा न बढ़ पाए। इसीलिए बसों के संचालन की तिथि को 30 जून तक बढ़ाया गया है।
सचिव राज्य परिवहन प्राधिकार एवं अपर परिवहन आयुक्त (प्रवर्तन) मप्र अरविंद सक्सेना ने मंगलवार 22 जून को इस संबंध में आदेश जारी कर दिए हैं। आदेश के अनुसार अंतरराज्यीय अनुज्ञाओं एवं अखिल भारतीय पर्यटक अनुज्ञाओं से आच्छादित मध्यप्रदेश राज्य की समस्त यात्री बस वाहनों का महाराष्ट्र की सीमा में प्रवेश तथा इस राज्य के यात्री बस वाहनों का मध्यप्रदेश की सीमा में प्रवेश 22 जून से बढ़ाकर 30 जून तक प्रतिबंधित किया गया है।

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *