लोकायुक्त व ईओडब्ल्यू में 78 आईएएस, आईपीएस और आईएफएस की शिकायतें

विधानसभा में 18 जुलाई 2017 को कांग्रेस विधायक रामनिवास रावत ने लोकायुक्त और आर्थिक अपराध अन्वेषण प्रकोष्ठ (ईओडब्ल्यू) में आईएएस, आईपीएस और आईएफएस अफसरों की शिकायतों को लेकर एक सवाल किया था। इसका अपूर्ण उत्तर अब दिया गया है। शामिल 78 अफसरों के नाम हैं। इनमें से कुछ सेवानिवृत्त हो चुके हैं। 
आर्थिक अपराध अन्वेषण प्रकोष्ठ में (23 अफसर):
आईएएस: महेशचंद्र चौधरी, एमबी ओझा, विवेक पोरवाल, सुधा चौधरी, राजकुमार पाठक, जयश्री कियावत, राकेश अग्रवाल, नरेश पाल कुमार, वेदप्रकाश।
आईपीएस: पुरुषोत्तम शर्मा, राजेश गुप्ता।
आईएफएस: पीके वर्मा, एसके पलास, राघवेंद्र श्रीवास्तव, पीके सिंह, रेवाशंकर कोरी, नाहर सिंह, आरबी शर्मा, यूके सुबुद्धि, आनंद बिहारी गुप्ता, आरएन पाटकर, आरएस सिकरवार, ओपी उचाड़िया।
लोकायुक्त संगठन में (70 अफसर):
आईएएस: अखिलेश श्रीवास्तव, प्रकाश जांगरे, मुकेश शुक्ल, महेशचंद्र चौधरी, अविनाश लवानिया, एनएस परमार, वेदप्रकाश, विवेक पोरवाल, एसके कुमरे, वी. किरण गोपाल, निसार अहमद, अरुण तोमर, एमबी ओझा, विशेष गढ़पाले, अभिजीत अग्रवाल, मनोहर अगनानी, अशोक बर्णवाल, शिखा दुबे, बीआर नायडू, डीजे विजय कुमार, अरुण पांडेय, एमके सिंह, विकास सिंह नरवाल, राकेश अग्रवाल, अजीत केसरी, आरके गुप्ता, पीएल सोलंकी, अजय गुप्ता, गुलशन बामरा, मनीष श्रीवास्तव, आकाश त्रिपाठी, सुमन सौरभ, नितेश व्यास, मनीष श्रीवास्तव।
आईपीएस: मयंक जैन, एमएल सोलंकी, टीके विद्यार्थी, पुरुषोत्तम शर्मा, रघुवीर सिंह मीणा।
आईएफएस: आजाद सिंह डबास, विभाष ठाकुर, रमेश गनावा, प्रशांत कुमार सिंह, एल. कृष्णमूर्ति, एलएस रावत, वीके नेमा, ओपी उचाड़िया, बासु कन्न्ौजिया, अनुपम सहाय, सत्येंद्र कुमार, एनके सनौरिया, राजेश कुमार, आरडी महला, अतुल खैरा, एके नागर, बीएस अन्न्गिेरी, एसके दुबे, पीके वर्मा, आरबी शर्मा, ब्रजेंद्र कुमार श्रीवास्तव, वाईपी सिंह, रविंद्र सक्सेना।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *