रीवा अल्ट्रामेगा सोलर और इरेडा के मध्य को होगा एग्रीमेंट

नई दिल्ली में 31 जनवरी को रीवा अल्ट्रा मेगा सोलर लिमिटेड तथा इंडियन रिन्यूवेबल एजेंसी ‘इरेडा’ (देश में सौर पार्क के लिये विश्व बैंक की नामित संस्था) के मध्य लोन एग्रीमेंट हस्ताक्षरित किया जायेगा। इस अवसर पर ऊर्जा विकास निगम के अध्यक्ष श्री विजेंद्र सिंह सिसोदिया विश्व बैंक, रीवा अल्ट्रा मेगा सोलर लिमिटेड, इरेडा, नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय और सोलर इनर्जी कॉर्पोरेशन के अधिकारी भी उपस्थित रहेंगे। विश्व बैंक का सहयोग प्रदेश में विकसित किये जा रहे अन्य पार्कों के लिये भी प्रस्तावित है, जिससे सस्ती के साथ-साथ ग्रीन इनर्जी भी प्राप्त होगी। रीवा सौर परियोजना ने मध्यप्रदेश को देश में ही नहीं बल्कि विश्व के सौर ऊर्जा के मानचित्र पर पहचान दिलाई है। परियोजना के लिये प्राप्त टैरिफ देश में न्यूनतम टैरिफ रहा है। विश्व बैंक द्वारा भारत में सौर पार्क के आधारभूत संरचना विकास के लिये 100 मिलियन डॉलर के ऋण का प्रावधान किया गया है। इसके तहत 75 मिलियन डॉलर का ऋण, 23 मिलियन डॉलर का क्लीन टेक्नालॉजी फण्ड और 2 मिलियन डॉलर का तकनीकी सहयोग फण्ड है। विश्व बैंक के सहयोग से सौर पार्क विकसित करने के लिये ऋण प्राप्त करने वाली रीवा अल्ट्रा मेगा सोलर लिमिटेड पहली कम्पनी है, जिसने इस तरह का नवाचार का प्रयोग कर नया मानदण्ड स्थापित किया है। इसके अलावा राज्य शासन द्वारा क्रय की जाने वाली विद्युत के भुगतान की सुनिश्चितता के लिये राज्य गारंटी का प्रावधान किया गया है। राज्य की यह पहल राज्य की परियोजना स्थापना में गंभीरता का परिचायक है तथा यह कम टैरिफ प्राप्त करने में अति महत्वपूर्ण साबित हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *