भारत और रूस ने सभी प्रकार के आतंकवाद की निंदा की

भारत और रूस ने हर प्रकार के आतंकवाद की निंदाकी है और निर्णायक तथा सामूहिक तरीके से बिना किसी दोहरे मानदंड के आतंकवाद के खात्‍मेकी जरूरत दोहराई है। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी और रूस के राष्‍ट्रपति व्‍लादिमीरपुतिन के बीच कल नई दिल्‍ली में वार्ता के बाद संयुक्‍त वक्‍तव्‍य में दोनों पक्ष आतंकीनेटवर्क, उनके वित्‍तीय पोषण के स्रोतोंको समाप्‍त करने और आतंकी विचारधारा, दुष्‍प्रचार तथा भर्ती पर काबू पाने के लिए मिलकर प्रयास करने पर सहमत हुए हैं। भारत और रूस ने राष्‍ट्रीय शांतिसुलह सफाई प्रक्रिया को निर्णायक बनाने में वहां की सरकार का समर्थन किया। नई दिल्‍लीमें कल भारत-रूस व्‍यापार शिखर बैठक को संबोधित करते हुए श्री मोदी ने कहा कि भारतअब तेजी से बढ़ती अर्थव्‍यवस्‍थाओं में से एक है और हमारे देश की प्रगति में रूस एकअत्‍यन्‍त महत्‍वपूर्ण भागीदार है। प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने प्रत्‍यक्षविदेशी निवेश के क्षेत्र में कई सुधार किए हैं। दोनों देशों ने सैन्‍य तकनीकी सहयोग की परियोजनाओंमें हुई महत्‍वपूर्ण प्रगति पर संतोष व्‍यक्‍त किया। उन्‍होंने दोनों देशों के बीचसैन्‍य तकनीकी उपकरणों के संयुक्‍त उत्‍पादन और संयुक्‍त अनुसंधान की दिशा में हुएअनुकूल परिवर्तन के महत्‍व को स्‍वीकार किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *