कंडम और गुणवत्ताहीन ट्रांसफार्मर्स से बिजली की परेशानी

राज्य मंत्रिमंडल की सोमवार को हुई बैठक में जहां कर्मचारियों व पेंशनर्स को एक जनवरी से तीन फीसदी डीए पर फैसला हुआ तो अनौपचारिक बैठक में बिजली कटौती पर मंत्रियों ने कहा कि इससे माहौल खराब हो रहा है। कुछ मंत्रियों ने कहा कि भाजपा सरकरा के समय कंडम और गुणवत्ताहीन ट्रांसफार्मर्स होने से परेशानी बढ़ी है।

मंत्रिपरिषद में जनसंपर्क मंत्री ने 27 फीसदी ओबीसी आरक्षण पारित होने पर कहा कि अब जल्द ही दस फीसदी सवर्ण आरक्षण पर भी फैसले की बात उठाई। मंत्रिमंडल ने कर्मचारियों और पेंशनर्स के लिए तीन फीसदी डीए का निर्णय लिया। इस फैसले से सरकार पर एक हजार 647 करोड़ रुपए का अतिरिक्त भार आएगा। इससे सात सरकारी कर्मचारियों को लाभ होगा और लगभग साढ़े चार लाख पेंशनर्स को फायदा पहुंचेगा।
छतरपुर जिले में हीरा खदान की नीलामी को मंत्रिमंडल ने फैसला देते हुए कहा कि इससे साठ करोड़ रुपए का सरकार को फायदा हूं। छिंदवाड़ा ओर जबलपुर में विज्ञान केंद्र तो भोपाल में साइंंस सिटी बनाई जाएगी। वहीं 5. एवरेस्ट पर्वतारोही भावना डेहरिया और मेघा परमार का कैबिनेट में सम्मान किया गया। इन्हें 3 लाख की सम्मान राशि दी गई। व्यय की गई 27 लाख की राशि सरकार वहां करेगी। तीनो को सरकारी नौकरी मिलेगी।

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *