Warning: mysqli_real_connect(): Headers and client library minor version mismatch. Headers:100311 Library:30121 in /home/khabar/domains/khabarsabki.com/public_html/wp-includes/class-wpdb.php on line 2035
IPS के इस बैच के दो अफसर DG रैंक के बिना होंगे रिटायर, जानिये कौन हैं ये

IPS के इस बैच के दो अफसर DG रैंक के बिना होंगे रिटायर, जानिये कौन हैं ये

भारतीय पुलिस सेवा में नौकरी पाने के बाद अधिकारी का सपना डीजी रैंक तक पहुंचने का होता है मगर कैडर मैनेजमेंट सही नहीं होने से कुछ अफसर वहां पहुंचने के पहले ही रिटायर हो जाते हैं। एक साल के भीतर मध्य प्रदेश कैडर के आईपीएस का एक बैच ऐसा होगा जिसके दो अधिकारी डीजी रैंक तक पहुंचने के पहले ही सेवानिवृत्त हो जाएंगे। पढ़िये रिपोर्ट।

मध्य प्रदेश में भारतीय पुलिस सेवा का कैडर मैनेजमेंट कुछ सालों में बड़े-बड़े बैच हो जाने की वजह से गड़बड़ा गया था जिसके विपरीत असर अधिकारियों को रिटायरमेंट तक पहुंचते-पहुंचते भुगतने पड़ेंगे। मध्य प्रदेश में अभी 1987 बैच के अधिकारी सुधीर कुमार सक्सेना डीजीपी हैं और 1991 बैच के एक अधिकारी को इसी महीने डीजी रैंक मिला है। इस तरह पांच बैच के 12 आईपीएस अधिकारी सुधीर कुमार के अलावा शैलेष सिंह, अरविंद कुमार, सुधीर कुमार शाही, कैलाश मकवाना, अजय कुमार शर्मा, संजय कुमार झा, गोविंद प्रताप सिंह, सुषमा सिंह, डॉ. अशोक अवस्थी, विजय कटारिया, वरुण कपूर महानिदेशक रैंक पर हैं
डीजी रैंक के चार अधिकारी नवंबर तक रिटायर होंगे
चार आईपीएस अधिकारी नवंबर 2024 तक रिटायर हो जाएंगे। सबसे पहले जून में अशोक अवस्थी रिटायर होंगे तो जुलाई में संजय कुमार झा, सितंबर में सुषमा सिंह और नवंबर में सुधीर कुमार सक्सेना का रिटायरमेंट है। इनके रिटायरमेंट के बाद क्रमशः उपेंद्र कुमार जैन, आलोक रंजन, प्रज्ञा श्रीवास्तव और योगेश मुदगल को डीजी रैंक मिलेगी। ये सभी वरुण कपूर के 1991 बैच के अधिकारी हैं। यह बैच नवंबर में डीजी रैंक पा लेगा और सभी अधिकारी डीजी रैंक तक पहुंचकर रिटायरमेंट पा लेंगे।
1992 के पहले व अंतिम अधिकारी को नहीं मिलेगी डीजी रैंक
2025 में 1992 बैच के आईपीएस अधिकारियों को डीजी रैंक मिलने की शुरुआत होगी जिसका सिलसिला जनवरी 2025 सुधीर कुमार शाही के रिटायरमेंट के साथ शुरू होगा। मगर 1992 बैच को डीजी रैंक मिलने की शुरुआत के पहले ही सितंबर 2024 में बैच के वरिष्ठतम अधिकारी राजेश गुप्ता का रिटायरमेंट हो जाएगा। जनवरी 2025 में पंकज श्रीवास्तव से बैच को डीजी रैंक मिलने की शुरुआत होगी और अगले महीने शैलेष सिंह और विजय कटारिया के रिटायरमेंट पर फरवरी 2025 में आदर्श कटियार और पवन कुमार श्रीवास्तव डीजी रैंक पा लेंगे। इसके बाद मई 2025 में अरविंद कुमार का रिटायरमेंट होगा तो मनीष शंकर शर्मा डीजी रैंक पर पहुंच जाएंगे। जुलाई 2025 में गोविंद प्रताप सिंह के रिटायर होने पर अखेतो सेमा डीजी रैंक हासिल कर लेंगे। अगस्त 2025 में योगेश मुदगल के रिटायरमेंट पर 1993 बैच के डीजी रैंक मिलने का सिलसिला शुरू होगा क्योंकि इस बैच के आखिरी अधिकारी डीसी सागर जून 2025 में ही रिटायर हो चुके होंगे। यानी 1992 के पहले और आखिरी अधिकारी को डीजी रैंक तक पहुंचना फिलहाल मुश्किल लग रहा है लेकिन परिस्थितियां बदलती हैं तो इन्हें यह लाभ मिल भी सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Khabar News | MP Breaking News | MP Khel Samachar | Latest News in Hindi Bhopal | Bhopal News In Hindi | Bhopal News Headlines | Bhopal Breaking News | Bhopal Khel Samachar | MP News Today