Warning: mysqli_real_connect(): Headers and client library minor version mismatch. Headers:100311 Library:30121 in /home/khabar/domains/khabarsabki.com/public_html/wp-includes/class-wpdb.php on line 2035
स्वास्थ

Category Archives: स्वास्थ

सोम डिस्टलरीज में बच्चे से बनवाई जा रही थी शराब, बाल अधिकार आयोग ने पकड़ा तो आबकारी अफसर ने हाथ जोड़े

मध्य प्रदेश के रायसेन में सोम डिस्टलरीज में बच्चों से शराब बनवाई जा रही थी जिसे राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग के अध्यक्ष प्रियंक कानूनगो ने पकड़ा। बाल मजदूरी के अलावा शराब जैसे उत्पाद को बच्चों से बनवाए जाने जैसे संवेदनशील मुद्दे पर बाल अधिकार संरक्षण आयोग को आबकारी विभाग ने जो तर्क दिया उससे अध्यक्ष कानूनगो गुस्से से तमतमा गए और यह गुस्सा देखकर आबकारी अफसर हाथ जोड़कर गिड़गिड़ाता नजर आया। पढ़िये रिपोर्ट।

नर्सिंग कॉलेजों ने परीक्षा कराई, कौंसिल ने अंकसूची भेजी तो पते नहीं मिले

नर्सिंग कॉलेज घोटाले का एक और बड़ा प्रमाण। मध्य प्रदेश नर्सेज रजिस्ट्रेशन कौंसिल ने 13 नर्सिंग कॉलेजों को उनके पते पर 2022 में आयोजित परीक्षा की अंकसूची भेजी मगर पते पर कॉलेज नहीं मिले। अंकसूचियां वापस कौंसिल के पते पर लौटीं। कौंसिल ने आम सूचना जारी की तो सामने आया मामला। पढ़िये रिपोर्ट।

पिप्पल डॉक्टर दंपति से ठगी, 51 तोला सोना और 31 लाख रुपये ऐंठे

भोपाल के अशोका गार्डन पुलिस ने धोखाधड़ी के आरोपी दो फ़र्ज़ी बाबा को गिरफ्तार किया है. इन लोगों ने पिप्पल डॉक्टर दम्पति को ठगकर 62 लाख का चूना लगाया था.

गर्मी की तपन से खजुराहो जूझ रहा, इंसान परेशान है तो बैनीसागर डेम की मछलियां मरीं

मध्य प्रदेश में गर्मी की तपन चरम पर है जिससे इंसान परेशान हो गया है। मगर जलीय प्राणी मछलियां पानी के भीतर जीवित नहीं महसूस कर रही हैं और खजुराहो की गर्मी में इन मरे हुए जलीय जीव के ढेर लग गए हैं। खजुराहो के जीवनदायिनी बैनीसागर बांध किनारे मरी हुई मछलियों के वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहे हैं। पढ़िये रिपोर्ट।

नर्सिंग घोटाले में राजस्व विभाग पर एक्शन, चिकित्सा शिक्षा विभाग में अब तक जिम्मेदार बचे

मध्य प्रदेश के व्यापमं घोटाले के बाद दूसरे सबसे बड़े शिक्षा घोटाले नर्सिंग स्केम में मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव के स्ख्ती के निर्देशों के बाद अब राजस्व विभाग के 14 नायब तहसीलदारों व तहसीलदारों पर एक्शन शुरू हुआ है। मगर सीएम की सख्ती के बाद भी घोटाले के मुख्य सूत्रधार वाले चिकित्सा शिक्षा विभाग के नेता-अफसरों पर कोई एक्शन होता नजर नहीं आ रहा है। पढ़िये रिपोर्ट।

नर्सिंग घोटाले में 31 जिलों के 66 कॉलेजों की मान्यता निरस्त, CBI में डेपुटेशन पर रहे TI मजोका बर्खास्त, दूसरे जिम्मेदारों पर आंच नहीं आई

मध्य प्रदेश नर्सिंग घोटाले में अब मंगलवार को सख्त एक्शन जमीन पर दिखाई दिया और सरकार ने 66 नर्सिंग कॉलेजों की मान्यता को निरस्त कर दिया है। मगर अभी भी सरकार की तरफ से जिम्मेदार मध्य प्रदेश आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय व मध्य प्रदेश नर्सेज रजिस्ट्रेशन कौंसिल तथा इनके कामकाज की मॉनीटरिंग करने वाले नौकरशाह व निर्वाचित जनप्रतिनिधियों पर एक्शन शुरू नहीं किया गया है। वहीं, मध्य प्रदेश पुलिस से सीबीआई में डेपुटेशन पर गए सुशील मजोका के घोटाले की जांच में भ्रष्ट आचरण करने पर सीएम डॉ. मोहन यादव के निर्देश पर उन्हें सेवा से बर्खास्त कर दिया है। गौरतलब है कि सीबीआई जांच में गड़बड़ी को लेकर सीबीआई अपने एक निरीक्षक राहुल राज को पहले ही बर्खास्त कर चुकी है। पढ़िये रिपोर्ट।

नर्सिंग घोटाले में जिम्मेदारों को कहीं बचाया तो नहीं जा रहा, जानें आयुर्विज्ञान विवि-नर्सेज रजिस्ट्रेशन कौंसिल में कौन जिम्मेदार

मध्य प्रदेश में व्यापमं घोटाले के बाद दूसरे बड़े एजुकेशनल इंस्टीट्यूट के स्कैम में जिम्मेदारों के खिलाफ प्रारंभिक कार्रवाई नहीं होने से यह शंका जताई जाने लगी है कि कहीं सरकार में बैठे असरदार राजनेता उनके कवच तो नहीं बन रहे हैं। आयुर्विज्ञान यूनिवर्सिटी और नर्सेज रजिस्ट्रेशन कौंसिल के कौन से जिम्मेदार हैं जो घोटाले में प्रारंभिक सूत्र माने जा रहे हैं, पढ़िये इन सभी से जुड़ी रिपोर्ट।

नर्सिंग घोटाले के व्हिसिलब्लोअर को इनसे जान को खतरा, सीएम को लिखा पत्र

नर्सिंग घोटाले में सीबीआई जांच में हुई गड़बड़ी का पर्दाफाश करने वाले व्हिसिलब्लोअर एनएसयूआई नेता रवि परमार को अपनी जान को खतरा है। परमार ने घोटाले के उजागर होने के बाद सख्त एक्शन की वजह से प्रभावितों द्वारा झूठे मामले में फंसाने या हत्या करा दिए जाने की आशंका के चलते मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव को पत्र लिखकर समय मांगा है। पढ़िये रिपोर्ट जिसमें रवि परमार को किनसे किस वजह से जान को खतरा या झूठे मामले में फंसाने का डर है।

इंदौर में रखी गई 2030 का भारत अभियान के तहत मुख्य प्रोजेक्ट्स की नींव

2030 का भारत (#2030KaBharat) अभियान के तहत सतत विकास लक्ष्य हासिल करने हेतु आज इंदौर में कुछ सार्थक प्रोजेक्ट्स की शुरुआत की गई। ये प्रोजेक्ट्स गरीबी, भुखमरी और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा से संबंधित होने के साथ-साथ स्ट्रीट वेंडर्स के सहयोग, और कैदियों के बेहतर स्वास्थ्य, पुनर्वास व कल्याण के प्रति भी समर्पित हैं। 2030 का भारत अभियान की शुरुआत समाजसेवी, लेखक व राजनीतिक रणनीतिकार अतुल मलिकराम द्वारा एक शिक्षित व समृद्ध भारत के दृष्टिकोण के साथ की गई है। इस अभियान का लक्ष्य मार्च 2026 तक इन सभी प्रोजेक्ट्स को देश के 10 राज्यों तक फैलाने का है।

नर्सेस कौंसिल ने उन कॉलेज में भी प्रवेश प्रक्रिया शुरू करने की हरी झंडी दी जिनके नाम नर्सिंग घोटाले की FIR में

मध्य प्रदेश के व्यापमं घोटाले के बाद नर्सिंग घोटाले में हाईकोर्ट के आदेश पर सीबीआई की जिस टीम ने जांच की थी, उसकी मिलीभगत सामने आने के बाद भी मध्य प्रदेश नर्सेस रजिस्ट्रेशन कौंसिल की सांठगांठ का बड़ा फैसला सामने आया है। कौंसिल ने 2024-25 में नर्सिंग कॉलेज में प्रवेश के लिए कॉलेजों की जो सूची जारी की है उनमें उन कॉलेजों को भी प्रवेश प्रक्रिया शुरू करने की हरी झंडी दे दी है जिनके नाम घोटाले में किसी न किसी रूप में शामिल हैं। पढ़िये सूची में शामिल सभी कॉलेजों के नाम, विशेष रूप से उनके नाम दे रहे हैं जिनके द्वारा घोटाला किया गया और कौंसिल के जिम्मेदार अधिकारी इस गड़बड़ी पर किस तरह पर्दा डालने की कोशिश कर रहे हैं।

Khabar News | MP Breaking News | MP Khel Samachar | Latest News in Hindi Bhopal | Bhopal News In Hindi | Bhopal News Headlines | Bhopal Breaking News | Bhopal Khel Samachar | MP News Today