Category Archives: दिल्ली

बालाघाट-मंडला में घोड़े-बकरी-भेड़ के खाने लायक अनाज राशन की दुकान पर मिला

मध्यप्रदेश में केंद्रीय उपभोक्ता मामले मंत्रालय की एक टीम ने जुलाई-अगस्त में चार दिन बालाघाट-मंडला जिले में निरीक्षण किया जिसमें 31 गोदाम और एक राशन की दुकान से नमूने लिए थे। इनकी रिपोर्ट आने पर पता चला कि जो राशन वहां मिला था, वह घोड़े, बकरी और भेड़ के खाने लायक था। मानव जीवन के लिए वह अनाज नुकसान दायक था। इस पर जब कांग्रेस ने बवाल मचाया तो सरकार के कान खड़े हुए और तुरत फुरत गुणवत्ता नियंत्रकों के खिलाफ कार्रवाई कर दी।

प्रधानमंत्री ने की लटेरी के कृषक से बातचीत

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज विदिशा जिले के लटेरी के कृषक श्री मुकेश शर्मा से बातचीत की। प्रधानमंत्री, रिलीज ऑफ बेनिफिट अंडर पीएम किसान एंड लांच ऑफ फांयनेशियल फैसिलिटी अंडर एग्रीकल्चर इन्फ्रास्ट्रक्चर फंड कार्यक्रम के अवसर पर वेबकास्ट द्वारा देश के कृषक संघों से चर्चा कर रहे थे।

अमर सिंह का दिल्ली में अंतिम संस्कार

राज्यसभा सांसद अमर सिंह का दिल्ली के छतरपुर में अंतिम संस्कार किया गया. अमर सिंह की दोनों बेटियों ने उन्हें मुखाग्नि दी. गौरतलब है कि अमर सिंह का सिंगापुर में 1 अगस्त को निधन हो गया था. रविवार को उनका पार्थिव शरीर सिंगापुर से दिल्ली लाया गया था.कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से उनके अंतिम संस्कार में चुनिंदा लोग ही मौजूद रहे. इस मौक पर पूर्व अभिनेत्री और बीजेपी नेता जयाप्रदा भी मौजूद रहीं.

कानपुर में बदमाशों से मुठभेड़ में 8 पुलिसकर्मी शहीद

उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले के चौबेपुर थाना क्षेत्र स्थित ग्राम विकरू में एक बदमाश को पकड़ने पहुंची पुलिस की टीम पर अपराधीतत्वों ने गोलियां बरसाईं जिसमें आठ पुलिस जवान शहीद हो गए। इनमें एक सीईओ बिल्होर भी शामिल हैं। पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ काफी देर चली लेकिन बदमाश ऊंचे स्थान पर होने की वजह से हमलाकर फरार होने में सफल रहे।

मंत्रिमंडल विस्तार दो दिन में होने के संकेत

मध्यप्रदेश में मंत्रिमंडल विस्तार की अटकलों को अब विराम लगने वाला है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के दिल्ली पहुंचने के बाद घटे घटनाक्रम से दो दिन के भीतर मंत्रिमंडल विस्तार की संभावना है। राज्यपाल लालजी टंडन के अस्वस्थ होने के बाद उत्तरप्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल को अतिरिक्त प्रभार सौंपे जाने से यह संभावना प्रबल हुई है।

PM के नेतृत्व में टीम इंडिया कोरोना से जंग जल्दी जीतेगी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा कोरोना के संबंध में आज देश के सभी मुख्यमंत्रियों के साथ ली गई वीडियो कान्फ्रेंसिंग में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री की दूरदृष्टि, संकल्पशक्ति तथा उनके कुशल नेतृत्व में टीम इंडिया कोरोना के विरूद्ध जंग में शीघ्र जीत हासिल करेगी। प्रधानमंत्री ने संघीय ढांचे के सम्मान और गरिमा के अनुरूप निरंतर राज्यों के साथ संवाद एवं समन्वय करके देश में कोरोना के विरूद्ध इतनी सशक्त रणनीति लागू की है, जिससे हमने कोरोना पर प्रभावी नियंत्रण पाया है। गृह विभाग की एडवायजरी राज्यों के लिए अत्यंत स्पष्ट और उपयोगी होती है।

राज्यपाल को दी राष्ट्रपति-प्रधानमंत्री ने जन्मदिन की बधाई

राज्यपाल लालजी टंडन को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जन्म-दिन की शुभकामनाएँ और बधाई दी है।

मोदी ने मध्यप्रदेश के नवाचारों की सराहना की

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने राज्यों में कोरोना की स्थिति की जानकारी लेते हुए आज मुख्यमंत्रियों से संवाद करते हुए कहा कि सामूहिकता में शक्ति होती है। कोरोना वायरस को युद्ध से भी बड़ा संकट मानकर सभी राज्य पूरी क्षमता से इसका मुकाबला करें। लड़ाई दरअसल अब शुरू हो रही है। इसके लिए सभी राज्यों को तैयार रहना चाहिए। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि उनकी चिंता है कि ज्यादा क्षति न हो, लोग लक्ष्मण रेखा पार न करें, और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। भारत सरकार इस दिशा में राज्यों को पूरी सहायता कर रही है। साथ ही राज्यों के अपने प्रयास भी सराहानीय हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के सुझावों का स्वागत करते हुए मध्यप्रदेश में कोरोना के नियंत्रण के लिए उठाए गए कुछ विशिष्ट कदमों की प्रशंसा की।

कोरोना पर प्रधानमंत्री की देशभर के सीएम की वीडियो कांफ्रेंस

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से देशभर के मुख्यमंत्रियों के साथ कोरोना वायरस संक्रमण की स्थिति की समीक्षा की।

तबलीगी जमात में शामिल 107 लोगों में से 67 चिन्हित

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज मंत्रालय में एक उच्च-स्तरीय बैठक में तबलीगी जमात में शामिल  लोगों को  सभी के हित में क्वारेंटाइन में रखे जाने के संबंध में जानकारी प्राप्त की। चौहान ने निर्देश दिये कि भोपाल के अलावा अन्य जिलों से भी जमात में शामिल हुए लोगों की ट्रैवल हिस्ट्री प्राप्त की जाए और उसके मुताबिक एहतियाती कदम भी उठाए जाएं। मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली में संक्रमण की स्थिति के मद्देनजर दिल्ली से वापस मध्यप्रदेश पहुँचने वाले लोगों के संबंध में ऐहतियात बरतना जरूरी है।