Category Archives: धर्म

सार्वजनिक स्थलों पर प्रतिमा विसर्जन पर रहेगा प्रतिबंध

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि आगामी गणेश उत्सव एवं अन्य त्यौहारों के अवसरों पर कोरोना संक्रमण न फैले इसके लिए आवश्यक है कि हम त्यौहार घर पर ही मनाएं। उन्होंने अपील की है कि कोरोना संबंधी सभी सावधानियां मास्क लगाने, सोशल डिस्टेंसिंग रखने आदि का अनिवार्य रूप से पालन किया जाए। उन्होंने कहा कि सार्वजनिक स्थलों पर मूर्तियों की स्थापना, ताजिए निकाले जाना आदि पूर्ण रूप से प्रतिबंधित हैं। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए घर पर स्थापित प्रतिमाओं आदि का सार्वजनिक स्थलों पर विसर्जन भी प्रतिबंधित रहेगा। विसर्जन के लिए हर वार्ड/क्षेत्र में ‘कलेक्शन पॉइन्ट्स’ बनाए जाएंगे, जहां पूरे सम्मान एवं पवित्रता के साथ गणेश प्रतिमाओं को एकत्रित किया जाएगा। इसके उपरांत स्थानीय निकाय उन्हें विसर्जन स्थलों पर ले जाकर विसर्जित करेंगे। उन्होंने इस संबंध में मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस को जिलों को विस्तृत गाइड लाइन जारी करने के निर्देश दिए।

सिंधिया-उमा भारती ने की महाकालेश्वर की पूजा

उज्जैन में शिप्रा नदी के रामघाट पर पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती ने बाबा महाकालेश्वर की पूजा की। सिंधिया अस्वस्थ चल रहीं उमा भारती को सहारा देकर पालकी के पास पूजा स्थल तक लाए और वहां बैठाया। उज्जैन प्रवास के दौरान सिंधिया उस समय बाल बाल बच गए जब भीड़ उमड़ी और इस दौरान सड़क पर लगी रैलिंग टूट गई। सुरक्षाकर्मियों ने सिंधिया को सहारा देकर रैलिंग से दूर किया।

चौहान ने नृत्यगोपाल जी के स्वास्थ्य का हालचाल जाना

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राम तीर्थ अयोध्या के अध्यक्ष महंत नृत्यगोपालदास जी के स्वास्थ्य  का हालचाल जाना। मुख्यमंत्री चौहान ने  फोन पर महंत जी से चर्चा  कर स्वास्थ्य का हालचाल प्राप्त किया और  श्री रामलला की कृपा से उनके जल्द ही पूर्ण स्वस्थ  होने की कामना की।

मुख्यमंत्री ने जन्माष्टमी पूजा अर्चना की

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जन्माष्टमी पर्व पर मुख्यमंत्री निवास और मंदिर में पहुंचकर राधाकृष्ण की पूजा अर्चना की। सबसे उन्होंने मुख्यमंत्री निवास में श्रीकृष्ण का श्रृंगार किया और फिर बिड़ला मंदिर में राधाकृष्ण के दर्शन करने पहुंचे।

श्रीकृष्ण से सम्बंधित लोकसंगीत-व्याख्यान केन्द्रित ‘ललित पर्व’

मध्यप्रदेश शासन, संस्कृति विभाग, त्रिवेणी कला संग्रहालय, उज्जैन द्वारा श्रीकृष्ण से सम्बंधित आंचलिक लोकसंगीत और व्याख्यान केन्द्रित ‘ललित पर्व’ का प्रसारण सोशल मीडिया प्लेटफार्म http://bit.ly/culturempYT पर श्रीकृष्ण द्वारा गुरु सान्दीपनि से सीखी गई 64 कलाओं और 14 विद्याओं केन्द्रित चित्रप्रदर्शनी से हुआ| तत्पश्चात मध्यप्रदेश के लोकपरम्परा से निमाड़ी, मालवी, बघेली और बुंदेलखंड बोली के कृष्ण भक्ति गीत प्रसारित किये गए|

कुछ लोग ऐसे होेेते हैं जो हालात देखकर बाजार लगाते हैंः गृह मंत्री

मध्यप्रदेश के गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा के एक बयान से फिर बवाल मच गया है। उन्होंने कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमल नाथ पर निशाना साधते हुए कहा कि कुछ लोग ऐसे होते हैं जो हाला देखकर बाजार लगाते हैं। वे कभी सुंदरकांड करते हैं, कभी कृष्ण दरबार सजाते हैं। कुछ लोग ऐसे होते हैं जो हालात देखकर बाजार लगाते हैं।

सार्वजनिक रूप से नहीं मनेगी राखी और ईद

कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए इस वर्ष रक्षाबंधन और ईद-उल-जुहा का त्यौहार सार्वजनिक रूप से नहीं मनाया जा सकेगा। चिकित्सा शिक्षा और गैस राहत मंत्री विश्वास सारंग ने बताया कि धर्मगुरुओं से चर्चा के बाद यह निर्णय लिया गया है। हॉट स्पाट बन चुके भोपाल की नगर निगम सीमा में 24 जुलाई से 4 अगस्त प्रात: 5 बजे तक पुन: लॉकडाउन लागू किया गया है।

मुख्यमंत्री चौहान ने भगवान महाकालेश्वर के दर्शन किये

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को उज्जैन प्रवास के दौरान भगवान महाकालेश्वर के दर्शन नन्दी हाल से किये। दर्शन उपरान्त मन्दिर के पुजारियों द्वारा स्वस्तिवाचन और शान्तिपाठ किया गया। इस अवसर पर उच्च शिक्षा मंत्री डॉ.मोहन यादव, सांसद अनिल फिरोजिया, विधायक बहादुरसिंह चौहान सहित स्थानीय जनप्रतिनिधि, प्रशासन एवं पुलिस अधिकारी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री ने दद्दाजी धाम पहुँचकर दी श्रद्धांजलि

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज कटनी झिझरी स्थित दद्दाधाम पहुँचकर जाने-माने गृहस्थ संत पूज्य देव प्रभाकर शास्त्री दद्दा जी को श्रृद्धांजलि दी। गृहस्थ संत पूज्य देव प्रभाकर शास्त्री दद्दा जी का 17 मई को देव लोक गमन हो गया था।

रमजान का महीना शनिवार से शुरू होगा

मुस्लिम समुदाय के पवित्र रमजान महीने की शुरूआत शनिवार से होने जा रही है। इस्लामिक केलेन्डर के मुताबिक 25 अप्रैल को पहला रोजा होगा। कोरोना लॉकडाउन के रमजान के महीने में भी पिछले एक महीने की तरह मुस्लिम समुदाय के लोग अपने-अपने घर पर ही नमाज पढ़ेंगे और रोजा अफ्तार-सेहरी करेंगे।