हॉकी और शूटिंग खिलाड़ियों को मिली सिंथेटिक टर्फ, स्किट एवं ट्रैप रेंज की सौगात

मंत्रि-परिषद के सदस्य पीसी शर्मा, सुरेन्द्र सिंह बघेल और जीतू पटवारी ने गोरेगाँव (भोपाल) राज्य शूटिंग अकादमी में हॉकी खिलाड़ियों के लिये 19 करोड़ 96 लाख लागत के 2 सिन्थेटिक टर्फ और शूटिंग खिलाड़ियों के लिये 5 करोड़ 22 लाख लागत के दो ट्रैप एण्ड स्किट रेंज की आधारशिला रखी। मंत्रीगण ने शूटिंग अकादमी का भ्रमण कर खिलाड़ियों को उपलब्ध कराई जा रही खेल सुविधाओं का जायजा लिया और शॉटगन से निशाना भी साधा।

हॉकी की नर्सरी है भोपाल

मंत्री श्री पी.सी. शर्मा ने कहा कि भोपाल ने हॉकी की नर्सरी के रूप में अपनी अलग पहचान बनाई है और देश को कई ओलम्पियन खिलाड़ी दिये हैं, जिन्होंने प्रदेश  का गौरव बढ़ाया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश को खेलों में अग्रणी राज्य बनाने के लिए मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ एवं खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्री जीतू पटवारी निरंतर प्रयासरत हैं। श्री शर्मा ने खिलाड़ियों को परिश्रम कर प्रतिभा निखारने और खेलों में कैरियर बनाने के लिए प्रोत्साहित किया। जनसम्पर्क मंत्री ने बताया कि गोरेगाँव में विश्व स्तरीय फुटबॉल स्टेडियम बनाने के लिये 50 एकड़ जमीन आरक्षित की गई है। स्टेडियम के निर्माण के बारे में शीघ्र निर्णय लिया जायेगा।

6 हॉकी सिन्थेटिक टर्फ वाला पहला शहर बना भोपाल

मंत्री श्री जीतू पटवारी ने प्रदेश में संचालित 24 हॉकी फीडर सेंटर और महिला एवं पुरूष हॉकी अकादमी का उल्लेख करते हुए कहा कि हॉकी के क्षेत्र में प्रदेश में जितने संसाधन हैं, उतने अन्य किसी प्रदेश में नहीं हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश के खिलाड़ियों को उच्च-स्तरीय खेल सुविधाएं और प्रशिक्षण उपलब्ध कराने के लिए मध्यप्रदेश सरकार वचनबद्ध है। श्री पटवारी ने कहा कि प्रदेश को खेलों में नंबर वन राज्य बनाने के मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ के स्वप्न को साकार किया जाएगा। उन्होंने कहा कि भोपाल देश का पहला ऐसा शहर होगा, जहां 6 सिंथेटिक टर्फ खिलाड़ियों के लिए उपलब्ध होंगे। इससे मध्यप्रदेश को अंतर्राष्ट्रीय टूर्नामेंट की मेजबानी का अवसर मिलेगा और स्पोर्ट्स टूरिज्म को भी बढ़ावा मिलेगा।

मंत्री श्री पटवारी ने बताया कि इंदौर में बिलाबली तालाब को वाटर स्पोर्टस के लिए तैयार किया जा रहा है, जहां आगामी नवम्बर माह में अंतर्राष्ट्रीय ड्रेगन बोट प्रतियोगिता आयोजित की जायेगी। उन्होंने कहा कि महेश्वर में स्पोर्टस टूरिज्म की बेहतर संभावनाओं को देखते हुए नर्मदा की सहस्त्रधारा पर कैनो स्लालम कोर्स संचालित किया जा रहा है।

परफॉर्मेन्स के लिये कमिटमेंट जरूरी

पर्यटन मंत्री श्री सुरेन्द्र सिंह बघेल ने कहा कि खेलों के क्षेत्र में पर्यटन की बेहतर संभावनाओं को ध्यान में रखते हुए खेलों को पर्यटन से जोड़ने के लिए हरसंभव कदम उठाए जाएंगे। बेहतर परफॉरमेंस के लिए कमिटमेंट बहुत जरूरी है। काम्पटीशन में सफल होने का कोई शार्टकट नहीं होता।

संचालक खेल एवं युवा कल्याण डॉ. एस.एल. थाउसेन ने कहा कि खेल विभाग द्वारा खिलाड़ियों को अत्याधुनिक खेल सुविधाएं और हाई परफारमेंस ट्रेनिंग उपलब्ध कराई जा रही है। उन्होंने उम्मीद जताई कि प्रदेश के खिलाड़ी पिछले राष्ट्रीय खेलों की तुलना में आगामी राष्ट्रीय खेलों में अधिक पदक जीतकर प्रदेश को गौरवान्वित करेंगे। 

हॉकी अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक श्री राजिन्दर सिंह ने बताया कि अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में खिलाड़ी सिंथेटिक टर्फ का लाभ उठा सकेंगे। समारोह में कार्यपालन यंत्री राजधानी परियोजना प्रशासन श्री राजेश सूद, संयुक्त संचालक डॉ. विनोद प्रधान एवं श्री बी.एस. यादव सहित अन्य अधिकारी और बड़ी संख्या में खिलाड़ी उपस्थित थे।  

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *