छठ पूजा की तैयारी में विधायक कृष्णा गौर ने किया घाट का दौरा

बिहार सांस्कृतिक परिषद् के के कार्यकर्ताओ एवं छठव्रती श्रद्धालुओ द्वारा छठ महापर्व की तैयारी सरस्वती मंदिर प्रांगण, ई सेक्टर, में युद्व स्तर की तैयारी किया जा रहा है। इस अवसर पर परिषद के संरक्षक, क्षेत्रीय विधायक श्रीमती कृष्णा गौर जी का छठ घाट, सरस्वती मंदिर का विशेष दौरा किया गया।उन्होंने तैयारियों का जायजा लिया एवं उपस्थित नगर निगम एवं जिला प्रशासन के अधिकारियों को समुचित व्यवस्था करने का निर्देश दिये।

जिला प्रशासन से एसडीएम मनोज कुमार वर्मा ने तैयारियों का बारीकी से निरीक्षण किया। नगर निगम के उपायुक्त पवन सिंह इस दौरान उपस्थित थे उन्होंने वृहद स्वच्छता के साथ समुचित प्रकाश, जल आपूर्ति, चेंजिंग रूम, मंच एवं टेंट तथा बैठक व्यवस्था करने का तत्काल निर्देश जारी किया। परिषद के महासचिव सतेन्द्र कुमार द्वारा सभी अतिथियों का स्वागत किया गया एवं सहयोग हेतु आभार व्यक्त किया। एसडीएम मनोज वर्मा, ऋतुराज रंजन, उपायुक्त, रबिन्द्र राय एवं रबिन्द्र नाथ झा महाप्रबंधक, अविनाश चंद्रा, भेल, भोपाल के दिशा निर्देश पर परिषद् के कार्यकर्ताओ द्वारा स्वच्छ्ता एवं पवित्रता का सबसे बड़ा पर्व छठ पूजा हेतु सूर्य कुंडों एवं प्रांगण की पवित्रता अक्षुण रखते हुए छठ वर्ती श्रद्धालु एवं भक्तो की सुविधा हेतु यह अभियान लगातार 15 दिनों से चलाया गया। इस अवसर पर परिषद के महासचिव सतेंद्र कुमार ने कहा कि परंपरा अनुसार इस महापर्व में स्वच्छता एवं पवित्रता का विशेष ध्यान रखना होता है जिसमे प्लास्टिक का उपयोग प्रतिबंधित रहता है। केवल बनस्पतियों के बने सामग्री ही उपयोग करते है। बांस के बनाये सूपा और दौरा का उपयोग किया जाता है।  शासन के निर्देशों के अनुसार मंगलवार को मार्किंग एवं नंबरिंग किया गया। तत्पश्चात रजिस्ट्रेशन करके घाट पर छठ पूजा के लिए वेदी निर्माण एवं स्थान दिए गए।
 बिहार सांस्कृतिक परिषद्  म. प्र. शासन से पंजीकृत एवं भेकनिस, भेल, भोपाल से संबद्ध सबसे बड़ा सांस्कृतिक एवं गैर राजनैतिक  संगठन हैं जिसमे भोपाल के भोजपुरी, मैथली एवं मगही भाषी दो लाख लोग जुड़े है।
परिषद् के महासचिव सतेन्द्र कुमार ने बताया कि वर्ष 1960 में स्थापित सरस्वती देवी मंदिर प्रांगण, ई. सेक्टर, बरखेड़ा मे निर्मित सूर्यकुंड मे छठ महापर्व के भव्य आयोजन परिषद द्वारा विगत 61 वर्षों से लगातार किया जा रहा है। चार दिनों तक चलने वाला यह महापर्व इस वर्ष 18 नवंबर, 2020 को नहाय–खाय से प्रारम्भ होकर 19 नवम्बर, 2020 को लोहण्डा/संझत/खड़ना तथा
 20 नवम्बर को भगवान सूर्य का प्रथम अर्ध्य (सायं) एवं
 21 नवम्बर को द्धितीय अर्ध्य (प्रात:) देने के पश्चात सम्पन्न होगा। परिषद द्वारा वर्ष भर में अनेक सामाजिक, सांस्कृतिक एवं धार्मिक आयोजन किया जाता है साथ जान सेवा हेतु निःशुल्क होम्योपैथी चिकित्सालय तथा निम्न आय वर्ग वाले परिवार के बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करने के लिए दो विद्यालय एक डॉ राजेन्द्र प्रसाद एवं दूसरा सम्राट अशोक प्री प्रा विद्यालय सफलता पूर्वक संचालित किया जाता हैं।
विगत वर्ष विधायक श्रीमती कृष्णा गौर के निर्देश पर नगर निगम, भोपाल एवं भेल भोपाल नगर प्रशासन के निर्देश पर उक्त छठ पूजनोत्सव पर समुचित व्यवस्था की गयी थी। इस वर्ष कोरोना महामारी को देखते हुए शासन द्वारा जारी कोविड-19 के निर्देशो एवं एसओपी का पालन तथा मास्क /सेनेटाइजर/सोशल डिस्टनसिंग के प्रयोग के साथ आयोजन किया जाएगा। आयोजन की अनुमति एसडीएम कार्यालय से प्राप्त हो चुकी है। छठ पूजा की तैयारियों में मुख्य रूप से अरुण विश्वकर्मा, पृथ्वीराज सिन्हा, सुनील सिंहा, रमा शंकर सिंह, सुरुचि कुमार, ए के दुबे, सूर्य कुमार सिंह, रामनंदन सिंह, धर्मेंद्र कुमार, नरेंद्र सिंह, संजय साह, हरि शंकर प्रसाद, अनिल कुमार, मनोज पाठक, सुरेश कुमार सिंह, ए तिवारी, ब्रह्मा प्रसाद, प्रेम जैसवार, संतोष गुप्ता, कृष्णा कुमार, विकास कुमार, रंजीत शर्मा, अमित शर्मा एवं कार्यकर्तागण शामिल थे।

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *