कांग्रेस की जीत से देश में सरकार गिराने-बनाने में सौदेबाजी के खिलाफ संदेश जायेगा: अजयसिंह

विधानसभा उपचुनाव की तारीखें आने के साथ ही पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजयसिंह ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को पत्र लिखकर कांग्रेस प्रत्याशियों को ज्यादा से ज्यादा मतों से जिताने के लिए जुट जाने का आग्रह किया है| उन्होंने लिखा है कि अब भाजपा को सबक सिखाने का समय आ गया है| मध्यप्रदेश से पूरे देश में यह संदेश जाना चाहिए कि लोभी विधायकों द्वारा दलबदल कर जबरन उपचुनाव थोपने की परिपाटी को जनता ने सिरे से नकार दिया है| जैसा मध्यप्रदेश में हुआ वैसा पूरे देश में दोबारा न हो, वरना सरकार गिराने का खेल और सौदेबाजी की राजनीति पूरे देश को बर्बाद कर देगी|

अजयसिंह ने लिखा है कि हम सभी एक कसौटी पर खड़े हैं| कोरोना हाहाकार के चलते प्रदेश में ऐसा राजनीतिक संकट सामने है, जब हमारी परीक्षा की घड़ी है| आप सभी ने मेहनत कर कांग्रेस की सरकार बनाई थी| कांग्रेस विधायकों की संख्या 55 से बढ़कर 114 हो गई थी| आपने जिस प्रकार शिवराज सरकार के काले कारनामों को बेनकाब किया था, उसका परिणाम हमें कांग्रेस की जीत के रूप में मिला था| आपने उस चुनाव में धनबल, छलकपट, गुंडागर्दी, बेईमानी और अनैतिकता के खिलाफ जोरदार संघर्ष किया था| उसी संघर्ष की जरूरत अब फिर से सामने है|

सिंह ने लिखा है कि हमें कांग्रेस के उन गद्दारों को आईना दिखाना है जिन्होंने लालच के कारण अपना ईमान बेचने में जरा भी संकोच नहीं किया| कांग्रेस जैसी मातृ संस्था के साथ धोखा किया| जनता के कीमती वोटों और विश्वास का अपमान किया| इन लोगों को यह अच्छी तरह समझ लेना चाहिए कि भाजपा उन्हें मन से कभी स्वीकार नहीं करेगी| हमारे सामने कई उदाहरण हैं कि जो भाजपा में गए थे, अंतत: अपमान का घूंट पीकर पुन: कांग्रेस में वापस आ गए| तेल और पानी कभी समरस नहीं हो सकते| अब जो उपचुनाव थोपे गए हैं वह लोभ और लालच के कारण होंगे| जनता इसे कभी स्वीकार नहीं करेगी|

अजयसिंह ने लिखा है कि दलबदलुओं और उनके स्वनामधन्य नेताओं को हर जगह विरोध का सामना करना पड़ रहा है| काले झंडे दिखाये जा रहे हैं| “गद्दारों वापस जाओ” के नारे लगाए जा रहे हैं| स्थानीय भाजपाई आपने ही नेताओं के कार्यक्रम से नदारत हैं| यह विरोध ठीक उसी तरह का है जिस तरह पिछले चुनाव में भाजपा विधायकों का उनके क्षेत्र की जनता ने किया था| उन्हें क्षेत्र से भगा दिया था| धोखेबाज और लोभी नेताओं को जनता नकार रही है| कांग्रेस के लिए यह अनुकूल संकेत है| इसका लाभ लेकर आप मतदाताओं को सच्चाई से अवगत कराएं| भाजपा द्वारा धांधलिया करने की पूरी योजना है, जिसे सतर्क और सावधान रहकर विफल करना है|

सिंह ने पत्र में कहा है कि शासकीय उपक्रम ” जन अभियान परिषद” के लोगों से विशेष सावधान रहने की जरूरत है| इसका दुरुपयोग शुरू हो गया है| इनके द्वारा मतदाता सूची के प्रत्येक पन्ने में उल्लेखित मतदाताओं को गुमराह करने के लिए पन्ना प्रभारी नियुक्त कर दिये गए हैं| इन्हें चुनाव कार्य से दूर रखने के लिए निर्वाचन अधिकारियों से लिखकर आग्रह करें| चुनाव आयोग ने पिछली बार परिषद के लोगों पर कार्यवाही भी की थी| अब वे बेशर्मी से फिर सक्रिय हैं|

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *