Category Archives: केरल

भेल अंतर इकाई फुटबॉल में भोपाल की जीत

भेल खेल प्राधिकरण की ओर से आयोजित अंतर इकाई फुटबॉल प्रतियोगिता सम्पन्न हुआ  जिसमें 10 यूनिट की फुटबॉल की टीमों ने भाग लिया। इस प्रतियोगिता के फाइनल मैच में भेल भोपाल का मुकाबला भेल की त्रिची यूनिट की टीम से हुआ।  यह मुकाबला बहुत ही रोमांचक रहा, दोनों टीमों ने बहुत ही अच्छे खेल का प्रदर्शन करते हुए एक भी गोल नहीं होने दिया और अंत में मैच टाई ब्रेकर के निर्णायक दौर में गया जहां पर भोपाल यूनिट 5-4 के अंतर से मैच जीता।

कन्‍नूर अंतर्राष्‍ट्रीय हवाईअड्डे ने काम करना शुरू कर दिया

केरल में कन्‍नूर अंतर्राष्‍ट्रीय हवाईअड्डे ने आज से काम करना शुरू कर दिया है। केंद्रीय नागर विमानन मंत्री सुरेश प्रभु और केरल के मुख्‍यमंत्री पिनाराई विजयन ने आज सुबह अबु धाबी के लिए पहली उड़ान को रवाना किया।  कन्‍नूर हवाई अड्डे से केरल में व्‍यापार, वाणिज्‍य, पर्यटन, रोजगार और निर्यात की संभावनाओं को बढ़ावा मिलेगा।

राज्य शूटिंग अकादमी ने 3 स्वर्ण, 2 रजत व 3 कांस्य पदक दिलाया

केरल के त्रिवेन्द्रम में 16 नवम्बर से 3 दिसम्बर तक आयोजित 62वीं राष्ट्रीय पिस्टल शूटिंग चैम्पियनशिप में मध्यप्रदेश राज्य शूटिंग अकादमी के पिस्टल खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए तीन स्वर्ण, दो रजत और तीन कांस्य पदक अर्जित किए। संचालक खेल और युवा कल्याण डॉ. एसएल थाउसेन ने पदक विजेता खिलाड़ियों को बधाई दी है।

सुप्रसिद्ध अयप्‍पा मन्दिर कड़ी सुरक्षा के बीच आज खुलेगा

केरल में शबरीमला में सुप्रसिद्ध अयप्‍पा मन्दिर कड़ी सुरक्षा के बीच आज शाम पांच बजे खुलेगा। दो म‍हीने की वार्षिक तीर्थयात्रा के मद्देनजर मंदिर खुल रहा है। मन्दिर परिसर में और उसके आसपास चार स्‍थानों पर कल रात से सात दिन के लिए निषेधाज्ञा लागू कर दी गई है। हर उम्र की महिलाओं को मन्दिर में प्रवेश की अनुमति देने के उच्‍चतम न्‍यायालय के फैसले के बाद हो रहे विरोध को देखते हुए निषेधाज्ञा लागू की गई है।

विधायक शाज़ी को अगले छह साल के लिए अयोग्‍य घोषित कर दिया

केरल उच्‍च न्‍यायालय ने इंडियन मुस्लिम लीग- आई.यू.एल.ए. के विधायक शाज़ी को अगले छह साल के लिए अयोग्‍य घोषित कर दिया है। उन पर 2016 में विधानसभा चुनाव के दौरान अज़िकोड विधानसभा क्षेत्र में चुनाव जीतने के लिए धर्म का इस्‍तेमाल करने का आरोप है। एलडीएफ उम्‍मीदवार एम.वी निकेश कुमार की याचिका की सुनवाई के बाद न्यायालय ने यह फैसला दिया है।

शबरीमला में अयप्पा मंदिर एक दिन की विशेष पूजा

केरल के शबरीमला में अयप्‍पा मंदिर आज एक दिन की विशेष पूजा के लिए खुल रहा है। मंदिर के आसपास कड़ी सुरक्षा व्‍यवस्‍था की गई है। मंदिर श्रद्धालुओं के लिए शाम पांच बजे खुलेगा और कल रात दस बजे फिर बंद हो जाएगा। सुरक्षा के लिए बीस कमांडों और एक सौ महिलाओं सहित तीन हजार से अधिक पुलिसकर्मी तैनात किये गए हैं। चार से अधिक लोगों के इकट्ठा होने पर कल से पाबंदी लागू है। निषेधाज्ञा कल मंगलवार तक जारी रहेगी।

केरल में सबरीमला अयप्‍पा मंदिर के आस-पास निेषेधाज्ञा लागू कर दी गई

केरल में सबरीमला अयप्‍पा मंदिर के आस-पास निेषेधाज्ञा लागू कर दी गई है। मंदिर कल एक दिन की पूजा के लिए खोला जाना है। अयप्‍पा मंदिर में सभी उम्र की महिलाओं के प्रवेश की अनुमति के उच्‍चतम न्‍यायालय के आदेश के बाद किसी भी अप्रिय स्थिति को रोकने के लिए निषेधाज्ञा जारी की गई है।  पिछले महीने के हिंसक प्रदर्शनों को देखते हुए मंदिर परिसर में भारी सुरक्षा व्‍यवस्‍था रहेगी। मंदिर की तरफ जाने वाले रास्‍ते में किसी को भी रुकने नहीं दिया जायेगा। मीडिया के लिए भी पाबंदी लगाई गई है। उन्‍हें केवल कल सबरीमला पहुंचने की अनुमति मिलेगी। निषेधाज्ञा मंगलवार तक लागू रहेगी।

नन दुष्‍कर्म मामले का एक गवाह कट्टुथारा रहस्‍यमयी हालात में मृत

केरल के नन दुष्‍कर्म मामले का एक गवाह फादर कुरियाकोज़ कट्टुथारा पंजाब के होशियारपुर जिले में रहस्‍यमयी हालात में मृत पाया गया। आरोप है कि जालंधर के रोमन कैथोलिक चर्च के बिशप फ्रेंको मुलक्‍कल ने एक नन से दुष्‍कर्म किया था। कुरियाकोज़ ने इस मामले में नन के समर्थन में गवाही दी थी।

शबरीमला मंदिर के इलाके में सुरक्षा के विशेष प्रबंध

केरल में, शबरीमला अयप्‍पा मंदिर में हर उम्र की महिलाओं के प्रवेश की अनुमति दिए जाने के विरोध में प्रदर्शन जारी हैं। सन्निदानम, इलअ्वुंकल, निलक्‍कल और पम्‍पा इलाके में आज सवेरे से धारा-144 लगा दी गई है। शबरीमला मंदिर में और आस-पास के इलाकों में सुरक्षा व्‍यवस्‍था कड़ी कर दी गई है। पुलिस मंदिर पहुंचने वाली श्रद्धालुओं की गाडि़यों को नियंत्रित कर रही है।

शबरीमला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश के लिए कड़ी सुरक्षा व्यवस्था

केरल के शबरीमला में प्रसिद्ध अय्यपा मंदिर आज शाम पांच बजे खुलेगा। इलाके में तनाव बना हुआ है। पुलिस ने सवेरे से पत्‍तनमतिट्टा के नीलक्‍कल  में प्रदर्शनकारियों को हटाना शुरू कर दिया है। ये प्रदर्शनकारी मंदिर में हर उम्र की महिलाओं के प्रवेश की अनुमति देने के उच्‍चतम न्‍यायालय के हाल के फैसले का विरोध कर रहे हैं।