लोकसभा जीतने वालों को बुलावा, हारने पर न आने की सलाह

मध्यप्रदेश विधानसभा में पौधरोपण घोटाले, सिंहस्थ घोटाले और मंदसौर गोलीकांड संबंधी प्रश्नों के जवाब में तत्कालीन भाजपा सरकार के बचाव पर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह की फटकार और मुख्यमंत्री कमलनाथ के ट्वीट More »

मशहूर साहित्यकार नामवर सिंह नहीं रहे

हिंदी साहित के नामी साहित्यकार नामवर सिंह का दिल्ली के एम्स हॉस्पिटल में निधन हो गया। वे पिछले एक महीने से ट्रामा यूनिट में भर्ती थे। ब्रेन हेमरेज के कारण उन्हें लाइफ More »

मंत्रियों के जवाबों पर दिग्विजय की फटकार, कमलनाथ के ट्वीट पर विधानसभा में हंगामा

मध्यप्रदेश विधानसभा में पौधरोपण घोटाले, सिंहस्थ घोटाले और मंदसौर गोलीकांड संबंधी प्रश्नों के जवाब में तत्कालीन भाजपा सरकार के बचाव पर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह की फटकार और मुख्यमंत्री कमलनाथ के ट्वीट More »

एडीजी राजेंद्र मिश्रा के पिता की जांच कराने जाएगी डॉक्टरों की टीम

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक राजेंद्र कुमार मिश्रा के पिता की मौत के मामले में राज्य मानव अधिकार आयोग ने डीजीपी वीके सिंह को निर्देश दिए हैं कि वह डॉक्टरों की टीम बनाकर एक More »

सरोज कुमारी सिंह की याचिका निरस्त

भोपाल की जिला अदालत में पूर्व मुखयमंत्री स्व. अर्जुन सिंह की पत्नी श्रीमती सरोज कुमारी सिंह की याचिका को निरस्त कर दिया है। याचिका में सरोजकुमार ने अपने पुत्र अजय सिंह (राहुल More »

लोकसभा जीतने वालों को बुलावा, हारने पर न आने की सलाह

मध्यप्रदेश विधानसभा में पौधरोपण घोटाले, सिंहस्थ घोटाले और मंदसौर गोलीकांड संबंधी प्रश्नों के जवाब में तत्कालीन भाजपा सरकार के बचाव पर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह की फटकार और मुख्यमंत्री कमलनाथ के ट्वीट को लेकर मंगलवार को विपक्ष ने जमकर हंगामा किया। विपक्ष ने जब इसे विशेषाधिकार भंग का मामला बताया और गैर संवैधानिक बताया तो मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा मुझे संविधान का पाठ नहीं पढ़ाएं।

मशहूर साहित्यकार नामवर सिंह नहीं रहे

हिंदी साहित के नामी साहित्यकार नामवर सिंह का दिल्ली के एम्स हॉस्पिटल में निधन हो गया। वे पिछले एक महीने से ट्रामा यूनिट में भर्ती थे। ब्रेन हेमरेज के कारण उन्हें लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया था। सिंह 92 साल के थे। उनका अंतिम संस्कार दिल्ली के लोधी घाट पर किया गया।

मंत्रियों के जवाबों पर दिग्विजय की फटकार, कमलनाथ के ट्वीट पर विधानसभा में हंगामा

मध्यप्रदेश विधानसभा में पौधरोपण घोटाले, सिंहस्थ घोटाले और मंदसौर गोलीकांड संबंधी प्रश्नों के जवाब में तत्कालीन भाजपा सरकार के बचाव पर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह की फटकार और मुख्यमंत्री कमलनाथ के ट्वीट को लेकर मंगलवार को विपक्ष ने जमकर हंगामा किया। विपक्ष ने जब इसे विशेषाधिकार भंग का मामला बताया और गैर संवैधानिक बताया तो मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा मुझे संविधान का पाठ नहीं पढ़ाएं।

एडीजी राजेंद्र मिश्रा के पिता की जांच कराने जाएगी डॉक्टरों की टीम

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक राजेंद्र कुमार मिश्रा के पिता की मौत के मामले में राज्य मानव अधिकार आयोग ने डीजीपी वीके सिंह को निर्देश दिए हैं कि वह डॉक्टरों की टीम बनाकर एक एसपी से ऊपर स्तर के अधिकारी की देखरेख में कार्रवाई कराएं।

सामान्य वर्ग का आरक्षण का मसौदा तैयार

सामान्य वर्ग के लोगो को आरक्षण देने के मामले में मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सदन में घोषणा की। इस मामले में मंत्रिमंडल की उप समिति बनाई जाएगी।

सरोज कुमारी सिंह की याचिका निरस्त

भोपाल की जिला अदालत में पूर्व मुखयमंत्री स्व. अर्जुन सिंह की पत्नी श्रीमती सरोज कुमारी सिंह की याचिका को निरस्त कर दिया है। याचिका में सरोजकुमार ने अपने पुत्र अजय सिंह (राहुल भैया) और अभिमन्यु सिंह के खिलाफ दायर किए गए।

मोदी सरकार ने हटाई 22 हुर्रियत नेताओं से सुरक्षा

श्रीनगर.पुलवामा आतंकी हमले के बाद सरकार ने एसएएस गिलानी, आगा सैयद मोसवी, मौलवी अब्बास अंसारी समेत 18 और हुर्रियत नेताओं की सुरक्षा हटा ली है। पुलवामा आतंकी हमले के बाद मोदी सरकार का अब तक सबसे बड़ा फैसला बताया जा रहा है।

दिग्विजय मंत्री बाला बच्चन-सिंगार पर बरसे, सिंधिया ने भी किया ट्वीट

मध्यप्रदेश विधानसभा में लिखित प्रश्नों के उत्तर में कमलनाथ सरकार के मंत्रियों बाला बच्चन, उमंग सिंगार और जयवर्धन सिंह द्वारा अलग-अलग प्रश्नों के जवाब में भाजपा की पूूर्ववर्ती सरकार को क्लीन चिट देने के मामले में पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने बाला बच्चन व सिंगार को फटकार लगाई और कहा कि वे कैसे भाजपा सरकार को क्लीनचिट दे सकते हैं।

सोमवार को विधानसभा में मंदसौर गोलीकांड, सिंहस्थ घोटाले और नर्मदा किनारे पौधरोपण के घोटाले को लेकर मंत्रियों ने जवाब दिए थे। बाला बच्चन ने मंदसौर गोलीकांड को लेकर कहा था कि पुलिस ने आत्मरक्षार्थ गोलियां चलाईं थी। वहीं, उमंग ने नर्मदा किनारे पौधरोपण को लेकर जवाब दिया था कि वृक्षारोपण सही हुआ है और उसमें काफी बड़ा भ्र्ष्टाचार हुआ है। जयवर्धन सिंह ने तो यह कहा दिया कि सिंहस्थ घोटाले में भ्रष्टाचार की जांच कराने की मांग की गई तो उन्होंने इसकी जांच करने की जरूरत नहीं बताई।
इसके बाद भाजपा ने मोर्चा खोल दिया है और आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री बताएं कि पार्टी किसके एजेंडा पर चल रही है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने कहा है कि कमलनाथ को यह स्पष्ट करना चाहिए कि प्रदेश सरकार किस के एजेंडे पर चल रही है ? सरकार कांग्रेस के एजेंडे पर चल रही है, मुख्यमंत्री कमलनाथ के एजेंडे पर चल रही है, या फिर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के एजेंडे पर चल रही है, जो इन दिनों सुपर सीएम की तरह हर मामले में दखलंदाजी कर रहे हैं।

अडानी-अंबानी के दोस्त से देश की रक्षा करने की उम्मीद बेईमानीः वर्मा

पीडब्ल्यूडी मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने मंगलवार को धार में पुलवामा पर आतंकी हमले में शहीद हुए 44 जवानों को लेकर कहा कि अडानी और अंबानी के दोस्त प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से देश की रक्षा करने की उम्मीद नहीं करना चाहिए।

राम मंदिर का निर्माण कांग्रेस सरकार ही कराएगीः महंत राम गिरि

अयोध्या के राम मंदिर को लेकर जूना अखाड़ा के महंत श्री राम गिरि जी महाराज ने बड़ा बयान दिया है और कहा है कि राम मंदिर का निर्माण कांग्रेस सरकार ही कराएगी। भाजपा ने राम मंदिर के नाम पर सिर्फ वोट बटोरने की काम किया है।