सूर्य उपासना का महापर्व छठ पूजनोत्सव का भव्य आयोजन

बिहार का सबसे बड़ा पर्व छठ 24 अक्टूबर को नहाय – खाय से प्रारम्भ होकर 25 अक्टूबर, बुधवार को खढना, लोहण्डा, संझत तथा 26 अक्टूबर को भगवान सूर्य को प्रथम अर्ध्य (सायं) देने के पश्चात सम्पन्न हुआ एवं 27 अक्टूबर को पारण द्धितीय अर्ध्य (प्रात:) देने के पश्चात लोक आस्था का महापर्व छठ पुजनोत्सव सम्पन्न होगा।बिहार सांस्कृतिक परिषद् भेल, भोपाल बिहार की गौरवशाली परंपरा एवं  समृद्ध संस्कृति के उन्नयन व प्रचार प्रसार हेतु गठित, पंजीकृत एवं भेल, भोपाल से संबद्ध संस्था है। इस परिषद् मे भोपाल महानगर के दो लाख से ज्यादा बिहारवासी जुड़े हुए हैं। परिषद् द्वारा सरस्वती देवी मंदिर प्रांगण, ई. सेक्टर, बरखेड़ा, भेल, भोपाल मे निर्मित सूर्यकुंडों मे सूर्य की उपासना का महापर्व छठ का भव्य आयोजन आप सब के सहयोग से वर्ष 1960 से निरंतर किया जाता रहा है जिसमे हजारो की संख्या मे छठवर्ती महिलाये एवं पुरुष श्रद्धालु भाग लेते है.

15 अक्टूबर को भोपाल के लोकप्रिय एवं स्वच्छता पसंद महापौर श्री आलोक शर्मा एवं श्री एम. एस. किनरा, महाप्रबंधक-मानव संसाधन, भेल, भोपाल समेत अनेक गणमान्य अतिथि एवं भारी संख्या मे परिषद के कार्यकर्ता की उपस्थिति में स्वच्छता कार्यक्रम संपन्न हुआ. प्रतिदिन इस छठ घाट स्वच्छता अभियान को जारी रखते हुये पवित्रता एवं स्वछता के महापर्व छठ पुजनोत्सव की तैयारी की गयी जिसमे परिषद् के सदस्यों एवं छठवर्ती श्रद्धालुगण ने भेल एवं नगर निगम की सहायता से पूरे घाट एवं कुंड की सफाई की. भोपाल का सबसे व्यवस्थित छठ घाट होने के कारण इस बार माननीय महापौर जी ने पूरे छठ पूजनोत्सव को अपने देख रेख में सम्पादित किया. माननीय महापौर के निर्देश पर नगर निगम द्वारा अस्थायी स्नानघर, चेंजिंग रूम, फव्वारे, मंच एवं चलित टॉयलेट की व्यवस्था की गयी. इस अवसर पर छठवर्ती श्रद्धालुओ के लिए अर्ध्य देने एवं बैठने की समुचित एवं उत्तम व्यवस्था, स्नान करने के लिए सावर की अलग से व्यवस्था एवं सुनियोजित पार्किंग की व्यवस्था  परिषद के कार्यकर्ताओं द्वारा की गयी.

महापर्व छठ पूजनोत्सव को भक्तिमय एवं धार्मिकता के साथ आध्यात्मिक रूप देने के लिए सरस्वती देवी मंदिर प्रांगण मे ही 26 अक्टूबर उपवास को सायं 04 बजे से छठ मईया के मधुरिम गीतो के साथ देवी जागरण एवं भजन गायन की मनमोहक एवं सुन्दर प्रस्तुति बिहार के प्रसिद्ध गायक श्री सुधीर पाण्डेय एवं गायिका गायत्री मेहरा एवं टीम द्वारा दी गयी जिसे उपस्थित जन समुदाय ने काफी सराहा. 27अक्टूबर पारण को प्रात: 04:30 बजे से 08 बजे तक इसी टीम के द्वारा प्रस्तुति दी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *