श्रमिकों के बिजली बिल संबंधी प्रकरण समाप्त किये जायेंगे : चौहान

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह ने आज रतलाम जिले के जावरा में हुए संबल योजना के कार्यक्रम में जिले के 59 हजार 784 पात्र हितग्राहियों के 23 करोड़ 12 लाख 75 हजार की राशि के बकाया बिजली बिल माफ करते हुए उन्हें इस आशय के प्रमाण-पत्र वितरित किये। श्री चौहान ने घोषणा की कि श्रमिकों पर चल रहे बिजली संबंधी प्रकरण समाप्त किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि किसानों को बिजली बिल की चिंता से पूरी तरह मुक्त किया जायेगा। किसानों, श्रमिकों और अन्य जरूरतमंद लोगों के हितों को ध्यान में रखकर ही राज्य सरकार ने प्रदेश में बकाया बिजली बिल माफी योजना लागू की है। मुख्यमंत्री ने बताया कि बिजली बिल माफी के लिये गरीबों को परेशान होने की जरूरत नहीं है। प्रदेश में जगह-जगह शिविर लगाकर गरीबों को जीरो बेलेंस बिजली बिल के प्रमाण-पत्र वितरित किये जायेंगे।

गरीबों की खुशहाली ही मेरी जिंदगी का मकसद

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गरीबों की खुशहाली ही मेरी जिंदगी का मकसद है। मैं हमेशा गरीब की आँखों में चमक देखना चाहता हूँ। उन्होंने कहा कि गरीब व्यक्ति के लिये अगर रोटी, कपड़ा, मकान जैसी आवश्यकताओं की पूर्ति के साथ बच्चों की पढ़ाई और परिवार के लिये बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएँ उपलब्ध रहे तो वह हर मुश्किल का सामना कर सकता है। श्री चौहान ने बताया कि संबल योजना में हाथ ठेला चलाने वाले, असंगठित श्रमिक, सब्जी बेचने वाले और इसी तरह के अन्य कार्य करने वाले लोगों को प्राथमिकता से सभी जन-कल्याणकारी योजनाओं का लाभ दिया जायेगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इस मौके पर 5800 करोड़ रुपये लागत की विभिन्न बिजली परियोजनाओं का लोकार्पण और भूमि-पूजन किया। उन्होंने उज्जैन संभाग को शत-प्रतिशत विद्युतीकृत घोषित करते हुए प्रसन्नता व्यक्त की।

श्री चौहान ने उपस्थित विशाल जन-समुदाय को विभिन्न योजनाओं के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने लोगों का आव्हान किया कि बेटियों के सम्मान, गरीब और वंचित वर्ग के कल्याण तथा प्रदेश के विकास के लिये एकजुट होकर सहयोग प्रदान करें। मुख्यमंत्री ने बकाया बिजली बिल माफी के प्रमाण-पत्रों के साथ ही हितग्राहियों को विभिन्न योजनाओं के हित-लाभ भी वितरित किये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *