लोकतंत्र में अधिक से अधिक सूचनायें उपलब्‍ध कराना महत्‍वपूर्ण

राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा है कि लोकतंत्र में अधिक से अधिक सूचनाएं उपलब्‍ध कराना महत्‍वपूर्ण है। नई दिल्‍ली में केन्‍द्रीय सूचना आयोग के 13वें वार्षिक सम्‍मेलन को सम्‍बोधित करते हुए श्री कोविंद ने कहा कि लोगों को यह जानने का अधिकार है कि कैसे शासन चल रहा है, सार्वजनिक धन कैसे खर्च हो रहा है और राष्‍ट्रीय संसाधनों का उपयोग किस तरह किया जा रहा है। उन्‍होंने कहा कि यह जानना  उनका अधिकार है कि सरकारी सेवायें किस तरह पहुंचाई जा रही हैं तथा लोक निर्माण और कल्‍याणकारी कार्यक्रम किस तरह चलाये जा रहे हैं। श्री कोविंद ने कहा कि सूचना का अधिकार नागरिकों और प्रशासन के बीच विश्‍वास के सामाजिक अनुबंध को और मजबूत करता है।
राष्ट्रपति ने कहा कि प्रशासन और नागरिकों का एक दूसरे में भरोसा होना चाहिए। उन्होंने कहा कि भ्रष्‍टाचार और सार्वजनिक धन की बर्बादी पर अंकुश लगाने के लिए संसाधनों का समुचित उपयोग सुनिश्चित किया जाना चाहिए।  सम्‍मेलन में सभी मौजूदा और पूर्व मुख्‍य सूचना आयुक्‍त, केन्‍द्रीय सूचना आयोग और राज्‍य सूचना आयोगों के आयुक्‍त, सूचना अधिकार कार्यकर्ता तथा सूचना अधिकार अधिनियम के कार्यान्‍वयन से जुड़े गैर सरकारी संगठन भाग ले रहे हैं।

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *