पत्रकार आदर्श गुप्ता के साथ मारपीट, देखती रही पुलिस

मुरैना में एक निजी अस्पताल में हुई प्रसूता की मौत के बाद आक्रोशित परिजनों ने कवरेज करने पहुंचे मीडिया के एक वरिष्ठ पत्रकार पर की हमला बोल दिया। उस मीडिया कर्मी डॉक्टर का पक्ष जानने के लिए कुछ देर उनके चेंबर में बैठकर बात करके आया। प्रशासन और पुलिस की मौजूदगी में भीड़ एक पत्रकार को पीटते रहती है और पुलिस मूकदर्शक बनी देखती रहती है। उस घटना की खुद गवाह पुलिस है उसके बाद भी पुलिस ने अब तक कोई कार्यवाही आखिर क्यों नहीं की । सवाल यह भी है कि मीडिया के लोग ही इसमें पत्रकार साथी का सहयोग नहीं कर रहे हैं । बल्कि उल्टा उन पर ही डॉक्टर के साथ मिलकर दलाली करने का आरोप लगा रहे हैं । ऐसे लोगों को यह मैसेज है कि आज जो गुप्ता जी के साथ हुआ वह कल आपके साथ भी हो सकता है ।

पत्रकार आदर्श गुप्ता की रिपोर्ट पर से कोतबाली पुलिस ने धारा 147 ,323, 294 506 और 34 पु ए के तहत मामला दर्ज कर लिया है ।पुलिस अधीक्षक ने इस मामले में पत्रकारों को आश्वासन दिया है कि पुलिस इस मामले में दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करेगी । आई जी चंम्बल सन्तोष सिंह ने भी पुलिस को कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं पत्रकार संगठनों श्रमजीवी पत्रकार संघ ,एम पी वर्किंग जर्नलिस्ट यूनियन और मध्यप्रदेश पत्रकार संघ ने मिलकर पुलिस से इस मामले में कठोर कार्रवाई की मांग की है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *