ट्रांसपोर्ट कर्मियों की राष्ट्रव्यापी हड़ताल मंगलवार को, चक्काजाम भी करेंगे

केन्द्र की मोदी सरकार के खिलाफ रोड ट्रांसपोर्ट व्यवसायियों ने हो रहे नुकसान के मद्देनजर अब आर या पार की ल़ड़ाई का मूड बना लिया है। श्रमिकों और छोटे व्यवसायियों को बर्बाद किया जा रहा है और बड़ी-बड़ी कंपनियों के हवाले करने किया जा रहै।मोटर व्हीकल एक्ट संशोधन विधेयक को केन्द्र की भाजपा सरकार ने अपने संख्या बल के आधार पर 10 अप्रैल 2017 को लोक सभा में पारित कर लिया। उसने इसे राज्य सभा में भी प्रस्तुत किया, लेकिन देश भर में हुए विरोध व राज्य सभा में बहुमत न होने के चलते वह इसे पारित नहीं करा पाई। अब उसने संसद के वर्तमान वर्षा कालीन सत्र (18 जुलाई से 30 अगस्त 2018 तक) में राज्य सभा की कार्यसूची में शामिल कर उसे पारित कराने की योजना बनाई है। यदि राज्य सभा में यह कानून पारित हो गया तो समूचे रोड ट्रांसपोर्ट उद्योग व उसमें लगे करोड़ों करोड़ लोगों को बर्बाद कर देगा।
इसलिए कल 7 अगस्त को देश के ट्रांसपोर्ट श्रमिकों के साथ मध्यप्रदेश और राजधानी तथा आस-पास पूरी तरह से ट्रांसपोर्ट वाहनों का आवागमन ठप्प रहेगा। 7 अगस्त को ट्रांसपोर्ट की हड़ताल पूरी तरह कामयाब होगी। हड़ताल के दिन केवल आवश्यक वाहन जैसे एम्बुलेंस, दुग्ध वाहन को ही इजाजत दी जायेगी।
0000

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *