जम्मू-कश्मीर से महिलाओं के समूह ‘सेवा’ ने श्री हंसराज गंगाराम अहीर से मुलाकात की

  1. भारत दर्शन पर्यटन कार्यक्रम के तहत दिल्ली आए हुए जम्मू-कश्मीर की 25 महिलाओं के एक दल ने आज यहां गृह राज्य मंत्री श्री हंसराज गंगाराम अहीर से मुलाकात की। इस समूह में जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा स्थित ‘सेल्फ एंप्लावाइड विमेन्स एसोसिएशन’ (सेवा) की सदस्य शामिल थीं। उल्लेखनीय है कि कुपवाड़ा कश्मीर घाटी के सर्वाधिक आतंकवाद पीड़ित जिलों में आता है।‘सेवा’ से जुड़ी महिलाओं को प्रोत्साहन देने और देश के अन्य भागों की महिलाओं के साथ सामाजिक, सांस्कृतिक और भावनात्मक जुड़ाव को मजबूत बनाने के लिए भारत दर्शन पर्यटन को सितंबर, 2017 में मंजूरी दी गई थी। इस परियोजना के तहत 25-25 महिलाओं के चार दल शामिल हैं।बातचीत के दौरान ‘सेवा’ सदस्यों ने अपने संगठन से जुड़ने से होने वाले फायदों के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि उनकी आय बढ़ाने के लिए उनके उत्पादों की बिक्री की आवश्यकता है। इस अवसर पर श्री अहीर ने कहा कि जम्मू-कश्मीर की सेवा सदस्यों द्वारा बनाए गए उत्पादों की पूरे देश में बिक्री के लिए गृह मंत्रालय उनकी सहायता करेगा। उन्होंने कहा कि कुपवाड़ा का ‘सेवा’ केन्द्र प्रधानमंत्री के कौशल विकास और मेक इन इंडिया के उद्देश्यों को सफल बनाने में बेहतरीन काम कर रहा है। इन गतिविधियों में जम्मू-कश्मीर की महिलाओं की भागीदारी उल्लेखनीय है। स्वयं सहायता समूह सामाजिक कल्याण और गरीबी उपशमन के सरकारी कार्यक्रमों को सफल बनाने में योगदान कर रहा है।नागरिक कार्य कार्यक्रम (सीएपी) के तहत महिला आधारित कल्याण योजना कुपवाड़ा में ‘सेवा’ के जरिए चलाई जा रही है। इस सिलसिले में ‘सेवा’ द्वारा कुपवाड़ा में संसाधन केन्द्र की स्थापना को 2012 में मंजूर किया गया था। ‘सेवा’ ने 500 हुनरमंद प्रशिक्षुओं सहित 3,500 महिलाओं को प्रशिक्षित करने का बीडा उठाया था। इन गतिविधियों में कपड़े की कटाई-सिलाई, दस्तकारी, खाद्य प्रसंस्करण, नवीकरणीय ऊर्जा और कृषि शामिल हैं। ‘सेवा’ ने अब तक 3,883 प्रशिक्षुओं और 558 हुनरमंद प्रशिक्षुओं को ट्रेनिंग दी है। विदित हो कि कुपवाड़ा केन्द्र ने सेबों की बिक्री के लिए कोको-कोला कंपनी के साथ समझौता किया है। इसके अलावा कुपवाड़ा में कृषि, बागवानी आपूर्ति श्रृंखला, खेत प्रबंधन और नवीकरणीय ऊर्जा संबंधी गतिविधियां भी चल रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *