छतरपुर में तीन बच्चे जिंदा जले

छतरपुर जिले में दिल दहलाना देने वाली एक घटना हुई जिसमें तीन मासूम बच्चे आगजनी की घटना में जिंदा जलकर मर गए। प्रशासन ने घटना के बाद परिजनों को तत्कालिक सहायता मुहैया कराई है।छतरपुर के सिविल लाइन थाना क्षेत्र स्थित बगोता गांव में चमरुआ पुरवा में तीन, चार और पांच साल की तीन बच्चियां खेत में बने झोपड़े में खेल रही थीं। बच्चियों के मातार पिता अपने मवेशियों को चराने के लिए गए थे। अचानक झोपड़ी में आ गई और किसाने ने आग लगने या बच्चों के जलने पर चीखों का शोर नहीं सुना। जब बच्चियों के अभिभावक घर लौटे तो झोपड़ी राख में बदल गई थी और तीनों बच्चों के शव काले पड़े हुए थे। प्रशासन ने मृत बच्चों की पहचान सीता पिता गुलजारी (3), नीनू पिता प्यारे लाल अहिरवार (5), राखी पिता भगवानदास अहिरवार (4) के रूप में की है। इनके परिवारजनों को तत्कालिक रूप से 5-5 हजार रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान कर दी गई और पंचायत की तरफ से दो-दो हजार रुपए की आर्थिक सहायता दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *