उत्तर भारत भारी वर्षा की चपेट में, पंजाब में आज सभी शैक्षणिक संस्थान बंद

उत्‍तर भारत में तेज वर्षा से कई स्‍थानों पर बाढ़ और चट्टानें खिसकने की घटनाएं हुई हैं।  भारी वर्षा को देखते हुए पंजाब में रेडअलर्ट जारी किया गया है और सभी शिक्षण संस्‍थान आज बंद रखे गए हैं। पंजाब में तीन दिन लगातार चलने के बाद बरसात अब बंद हो चुकी है। सतलुज नदी में भी जलस्‍तर अभी खतरे के निशान से नीचे है। पंजाब में आज सभी स्‍कूल और कॉलेजों में छुट्टी की गई है। इस बीच, तीन दिन तक चली बरसात और तेज हवाओं के कारण माझा और दोआबा क्षेत्र के साथ-साथ मालवा क्षेत्र के कई जिलों में धान और बासमती की फसलों को भी काफी नुकसान हुआ है। जम्‍मू कश्‍मीर के डोडा जिले में और हिमाचल प्रदेश के अधिकतर भागों में वर्षा के कारण स्‍कूल बंद रखने के आदेश दिये गए हैं। हिमाचल प्रदेश में व्‍यास नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है और उसमें आई बाढ़ से कई मकान बह गए हैं।

इस बीच कांगड़ा जिले के पोंग बांध से आज दोपहर 49 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा जाएगा। उत्‍तराखंड में भारी वर्षा और चट्टानें खिसकने से बद्रीनाथ, केदारनाथ और यमुनोत्री मार्ग अवरूद्ध हो गए हैं जिससे चारधाम यात्रा में बाधा आई है।

पश्चिमी उत्‍तर प्रदेश में तेज वर्षा से कई शहरों में सामान्‍य जनजीवन अस्‍तव्‍यस्‍त हो गया है और धान तथा सब्जियों की फसलों को नुकसान पहुंचा है। मौसम विभाग ने अगले 48 घंटों में मध्‍य और पश्चिमी उत्‍तर प्रदेश में भारी वर्षा का पूर्वानुमान व्‍यक्‍त किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *