इंडोनेशिया में 18वें एशियाई खेल संपन्न

इंडोनेशिया में 18वें एशियाई खेल आज संपन्न हो गए। महिला हॉकी टीम की कप्तान रानी रामपाल समापन समारोह में भारतीय दल की ध्वजवाहक बनीं जबकि उदघाटन में नीरज चौपड़ा भारतीय झंडे को लेकर नेतृत्व करते हुए आगे चले थे। मुक्केबाजी में अमित पांघल और ब्रिज में पुरूष डबल्‍स जोड़ी के स्वर्ण पदकों की बदौलत भारत ने एशियाई खेलों के इतिहास में अब तक के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के साथ अपने अभियान का शानदार अंत किया। अमित ने 49 किलोग्राम भार वर्ग के फाइनल में उज्‍बेकिस्‍तान के ओलंपिक और एशियाई चैंपियन हसनब्वाय दुसमातोव को हराकर सोने का तमगा हासिल किया। अमित ने इसके साथ ही पिछले साल विश्व चैंपियनशिप में दुसमातोव से मिली हार का बदला भी चुकता कर लिया।

पहली बार इन खेलों में शामिल किये गये ब्रिज के पुरूष डबल्‍स मुकाबले में प्रणब बर्धन और शिबनाथ सरकार ने शानदार प्रदर्शन करते हुए स्वर्ण पदक जीता। भारत को अप्रत्याशित सफलता दिलाने वाले 60 वर्षीय प्रणब बर्धन भारतीय दल में पदक जीतने वाले सबसे उम्रदराज व्यक्ति भी बन गये। भारतीय पुरूष हाकी टीम हालांकि स्‍वर्ण पदक जीतकर ओलंपिक के लिए सीधे क्‍वालीफाई तो नहीं कर पाई, लेकिन उसने कांस्य पदक के मैच में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को हराकर इस टीस को कम जरूर किया। स्क्वाश में भारतीय महिला टीम फाइनल में हांगकांग से हार गयी और इस तरह से उसे लगातार दूसरी बार रजत पदक मिला। भारत 15 स्वर्ण, 24 रजत और 30 कांस्य सहित कुल 69 पदक जीतकर आठवें स्‍थान पर रहा। चीन पहले, जापान दूसरे और दक्षिण कोरिया तीसरे नंबर पर रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *