अस्पताल की व्यवस्था सुधार के लिए प्रबंधकीय बदलाव

हमीदिया अस्पताल में कुशल प्रबंधन और कार्यक्षमता बढ़ाने के लिए आवश्यक प्रबंधकीय बदलाव किये गये है। इसमें सुरक्षा एवं सफाई व्यवस्था, वार्डों एवं विभागों में स्टाफ की पदस्थापना, सी.एम.ओ. नाईट निरीक्षण प्रणाली, नर्सिंग स्टाफ की ड्यूटी, ड्यूटी रोस्टर डिस्पले, एच.एम.आई.एस. सॉफ्टवेयर की स्थापना जैसे महत्वपूर्ण कार्य शुरू किये गये हैं।हमीदिया अस्पताल में सुरक्षा व्यवस्था में सुधार के लिए केन्द्रीय सरकार के उपक्रम की संचालित एजेंसी को सुरक्षा व्यवस्था का कार्य सौंपा गया है। इससे अस्पताल परिसर में वाहनों के आवागमन में सुधार हुआ है। वार्ड में भर्ती मरीज के परिजन को प्रवेश-पत्र जारी किये जा रहे है, जिससे वार्ड में अनावश्यक भीड़ में कमी आयी है। अधीक्षक स्वयं अस्पताल का निरीक्षण कर रहे हैं। आकस्मिक चिकित्सा विभाग में तीन पालियों में चिकित्सा अधिकारी 24 घंटे उपलब्ध रहते हैं। इसी तरह नर्सों की स्थायी ड्यूटी भी लगाई जा रही है। उन्हें विभागाध्यक्ष के अधीन किया गया है। सभी वार्डों में स्टाफ नर्स, तृतीय एवं चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों का ड्यूटी रोस्टर प्रमुख स्थान पर डिसप्ले किया जा रहा है। अस्पताल में पूर्व में मेनुअल वर्क होने से संबंधित स्टाफ को आपसी सामंजस्य में परेशानी होती थी, जिससे विभाग का कार्य प्रभावित होता था। अस्पताल में हॉस्पिटल मैनेंजमेंट सिस्टम लगाया गया है। इससे अस्पताल में आने वाले मरीजों के उपचार में पारदर्शिता रखी जा रही है। केन्द्रीय औषधि भण्डार में उपलब्ध दवाई अन्य सामग्री का ऑनलाईन वितरण सभी वार्डो में किया जा रहा है। अस्पताल में आवश्यकतानुसार सफाई कर्मचारी, सुरक्षा कर्मचारी और वार्ड बाय और कर्मचारियों की बढ़ोत्तरी की गई है। इसके लिए फुल प्रूफ मॉनिटरिंग सिस्टम बनाया गया है, जिसमें विभिन्न लेवल पर अधिकारियों एवं सुपरवाईजर को पदस्थ किया गया है। साथ ही कार्य क्षेत्र के हिसाब से एस.ओ.पी. बनाई गई है, इससे विभिन्न व्यवस्थाओं पर नियंत्रण किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *